सुबहानी एक बहुत ही शांत और ईमानदार अधिकारी हैं. वे नीतीश कुमार के प्रति काफी वफादार रहे हैं. यही वजह है कि नीतीश कुमार उन्हें खूब मानते हैं. वे कई सालों से राज्य के गृह सचिव के रूप में काम कर रहे हैं.

वर्तमान मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण 31 दिसंबर को सेवानिवृत्त हो रहे हैं। त्रिपुरारि का दो बार कार्यकाल विस्तार किया जा चुका है। अगले मुख्य सचिव के लिए सुबहानी के नाम पर चर्चा पहले से हो रही थी। 1987 बैच के आईएएस अधिकारी सुबहानी नीतीश कुमार के करीबी माने जाते हैं और लंबे समय तक उनके कार्यकाल में गृह विभाग के प्रधान सचिव रहे हैं।

सीवान जिले के मूल निवासी आमीर सुबहानी 1987 बैच की यूपीएससी परीक्षा में टॉपर रहे हैं. वे राज्य के कई जिलों में डीएम और अनेक महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया है. विकास आयुक्त के पद पर कार्यरत आमिर सुबहानी 30 अप्रैल, 2024 को रिटायर होंगे. दूसरी ओर समाज कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अतुल प्रसाद 1987, को विकास आयुक्त बनाया गया है.

अतुल प्रसाद 28 फरवरी, 2022 को रिटायर होंगे.बिहार के नए मुख्य सचिव के रूप में अब नीतीश सरकार ने आईएएस अधिकारी आमिर सुबहानी को नियुक्त किया है। 1987 बैच के आईएएस अधिकारी सुबहानी अब राज्य में ब्यूरोक्रेसी की कमान संभालेंगे।बता दें कि नई जिम्मेदारी मिलने से पहले आमिर सुबहानी विकास आयुक्त के पद पर थे, जिसके बाद अब पोस्ट की जिम्मेवारी समाज कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अतुल प्रसाद को सौंप दी गई है।

सुबहानी 1987 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं, उन्होंने अपने बैच में टॉपर किया था। इसी के साथ वो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सबसे भरोसेमंद अधिकारी हैं। उनकी गिनती सीएम के सबसे करीबी और ताकतवार अधिकारियों में होती है।डॉ. सादिका से आमिर सुबहानी की शादी साल 1992 में हुई थी.

डॉ. सादिका की 5 साल पहले पत्नी की मौत हो गई थी. सादिका रिटायर्ड इंजीनयर जियाउल हक सिद्दकी की बेटी थीं. आमिर सुबहानी को एक बेटी और एक बेटा है. बेटी सलमा सुबहानी लखनऊ से मेडिकल की छात्रा रही हैं. उनके बेटे के नाम हामिद उमर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *